Thursday, December 2, 2021
Homeगैजेट्सiPhone यूजर्स हो जाएं Alert! डेटिंग ऐप्स का यूज कर आपको लगाया...

iPhone यूजर्स हो जाएं Alert! डेटिंग ऐप्स का यूज कर आपको लगाया जा रहा है चूना, जान लें क्या है पूरा मामला


अगर आप iPhone यूजर्स हैं तो ये खबर आपके लिए पढ़ना बहुत जरूरी है। क्योंकि साइबर क्रिमिनल एक बार फिर एक नई तरह का फ्रॉड लेकर आए हैं। साइबर सिक्योरिटी फर्म सोफोस रिसर्च ने हाल ही में एक रिपोर्ट में कहा कि Cryptocurrency स्कैमर्स iPhone यूजर्स को एक नए फ्रॉड में फंसा रहे हैं। हैकर्स लोकप्रिय डेटिंग ऐप जैसे टिंडर और बंबल के माध्यम से लोगों को अपने चुंगल में फंसा रहे हैं। रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि साइबर अपराधियों ने इस घोटाले के माध्यम से न केवल लाखों डॉलर की चोरी की है, बल्कि आईफोन यूजर्स तक पहुंच भी प्राप्त की है।

 

ये भी पढ़ें:- मिलिट्री ग्रेड बिल्ड क्वॉलिटी वाला धांसू Nokia XR20 स्मार्टफोन लॉन्च, न गिरने पर टूटेगा, न पानी में खराब होगा

 

सोफोस रिसर्च ने बताया कि हैकर्स ने एक बिटकॉइन वॉलेट की खोज की है जिसमें लगभग $1.4 मिलियन की Cryptocurrency शामिल थी, एजेंसी ने इस फ्रॉड को CryptoRom नाम दिया है। यह फ्रॉड सिर्फ एशिया में लोगों के साथ ही नहीं बल्कि यूरोप और यूएस के लोगों के साथ भी किया जा रहा है।

इस फ्रॉड के बारे में बताते हुए, सोफोस के सोफोस के सीनियर थ्रेट रिसर्चर जगदीश चंद्रैया ने बताया कि सबसे पहले, हमलावर वैध डेटिंग साइटों पर फर्जी प्रोफाइल पोस्ट करते हैं। एक बार जब वे एक लक्ष्य के साथ संपर्क कर लेते हैं, तो हमलावर एक मैसेजिंग प्लेटफॉर्म पर बातचीत जारी रखने का सुझाव देते हैं। फिर वे एक नकली Cryptocurrency ट्रेडिंग ऐप को इंस्टॉल करने और और उसमें निवेश करने के लिए टारगेट को मनाते हैं। सबसे पहले, रिटर्न बहुत अच्छा लगता है, लेकिन अगर पीड़ित अपने पैसे वापस मांगता है या धन का उपयोग करने की कोशिश करता है, तो उन्हें मना कर दिया जाता है और वो अपने पैसे से हाथ धो बैठते हैं। हमारे शोध से पता चलता है कि हमलावर इस घोटाले से लाखों डॉलर कमा रहे हैं।

 

ये भी पढ़ें:- BSNL ने सस्ते कर दिए अपने 3 प्रीपेड प्लान, अब 54 रुपये से शुरू होगी कीमत

 

सोफोस ने पाया कि पैसे चुराने के अलावा, स्कैमर्स नकली Cryptocurrency ऐप का इस्तेमाल पीड़ितों के आईफोन तक पहुंचने के लिए भी कर सकते हैं। सोफोस ने चेतावनी दी कि इस प्रोसेस का उपयोग करते हुए, हमलावर अपने नकली क्रिप्टो-ट्रेडिंग ऐप के साथ iPhone उपयोगकर्ताओं के बड़े समूहों को लक्षित कर सकते हैं और अपने उपकरणों पर रिमोट कंट्रोल हासिल कर सकते हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular