Sunday, December 5, 2021
HomeराजनीतिJapanese princess married a common man, fell in love during her studies...

Japanese princess married a common man, fell in love during her studies | राजकुमारी माको ने आम आदमी से रचाई शादी, पढ़ाई के दौरान हुआ था प्यार – Bhaskar Hindi



डिजिटल डेस्क, टोक्यो। जापान की राजकुमारी माको पूरे विश्व में चर्चा का विषय बन गई हैं। आपको बता दें कि माको ने एक ऐसा फैसला लिया जिसको जान कर आप हैरान रह जाएंगे। माको ने एक आम इंसान से शादी रचा ली है। जिसके चलते उन्होंने अपना शाही दर्जा खो दिया है।  हालांकि राजकुमारी के विवाह और उनका शाही दर्जा खत्म करने के मुद्दे पर जनता की राय बंटी हुई है. ‘इंपीरियल हाउसहोल्ड एजेंसी’ ने बताया कि माको और उनके प्रेमी केई कोमुरो के शादी के दस्तावेज मंगलवार सुबह महल के एक अधिकारी ने प्रस्तुत किए। एजेंसी के मुताबिक कि वे दोपहर में एक संवाददाता सम्मेलन में इस संबंध में बयान जारी करेंगे, लेकिन इस दौरान पत्रकारों की ओर से कोई सवाल नहीं लिए जाएंगे। एजेंसी ने बताया कि महल के चिकित्सकों के अनुसार माको इस महीने की शुरुआत में तनाव से जूझ रही थीं, लेकिन अब वह धीरे-धीरे तनावमुक्त हो रही हैं। अपनी शादी के बारे में नकारात्मक खबरों, खासकर कोमुरो को निशाना बनाए जाने के कारण माको काफी तनाव में थीं। विवाह के बाद किसी भी तरह का आयोजन नही किया जाएगा।

माको को पढ़ाई के दौरान ही हुआ था प्यार

आपको बता दें कि माको की उम्र मात्र 30 वर्ष है, माको सम्राट नारूहितो की भतीजी हैं। वह और कोमुरो तोक्यो की इंटरनेशनल क्रिश्चियन विश्वविद्यालय में साथ पढ़ते थे। उन्होंने सितंबर 2017 में विवाह की घोषणा की थी, लेकिन उसके दो महीने बाद कोमुरो की मां से जुड़ा एक वित्तीय विवाद सामने आने के कारण शादी को टाल दिया गया था। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या विवाद पूरी तरह से हल हो गया है या नहीं। 30 वर्षीय कोमुरो 2018 में कानून की पढ़ाई करने के लिए न्यूयॉर्क गई थीं और पिछले महीने ही जापान लौटीं। द्वितीय विश्व युद्ध के बाद शाही परिवार की वह पहली सदस्य हैं, जिन्होंने एक आम नागरिक से शादी करते समय उपहार के तौर पर कोई धन नहीं लिया। 

अब माको का राजकुमारी का दर्जा होगा खत्म

गौरतलब है कि इंपीरियल हाउस’ कानून के अनुसार,  शाही परिवार की कोई महिला सदस्य आम नागरिक से शादी करती है तो उसके राजकुमारी का दर्जा खत्म माना जाता है।  इस प्रथा के कारण शाही परिवार के सदस्य कम होते जा रहे हैं और सिंहासन के उत्तराधिकारियों की कमी है. नारुहितो के बाद, उत्तराधिकार की दौड़ में केवल अकिशिनो और उनके बेटे प्रिंस हिसाहिटो हैं। माको आम नागरिक से शादी रचा कर अपने राजकुमारी होने का दर्जा खत्म कर दी हैं। बता दें कि मंगलवार सुबह वह हल्के नीले रंग की पोशाक पहने और हाथ में एक गुलदस्ता लिए महल से बाहर आईं। वहां वह अपने माता-पिता क्राउन प्रिंस अकिशिनो, क्राउन प्रिंसेस किको और अपनी बहन काको से मिलीं। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular