Thursday, August 18, 2022
HomeभारतOla के दो बड़े अधिकारियों ने छोड़ी कंपनी, बताई ये बड़ी वजह?

Ola के दो बड़े अधिकारियों ने छोड़ी कंपनी, बताई ये बड़ी वजह?


नई दिल्ली. ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की हाल ही घटनाओं के बाद अब कंपनी को एक और झटका लगा है. खबर है कि ओला के व्हीकल कॉमर्स सीईओ अरुण सिरदेशमुख और चीफ ऑफ ग्रुप स्ट्रैटजी अमित आंचल कंपनी छोड़ रहे हैं. moneycontrol की खबर के मुताबिक, कंपनी को यह झटका ऐसे वक्त में लगा है जब ओला अपनी लिस्टिंग योजनाओं में देरी से जूझ रही है और क्वलिटी के मुद्दों पर भी ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर पर कई सवाल उठ रहे हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, “सिरदेशमुख ओला इलेक्ट्रिक के लिए मार्केट लिस्टिंग प्रभारी भी थे, लेकिन उन्होंने छोड़ने का फैसला किया. अमित को ओला के आईपीओ को लीड करना था और उन्होंने फंड राइजिंग में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, लेकिन अभी के लिए लिस्टिंग योजाना में देरी की वजह से उन्होंने यह फैसला लिया है.”

ये भी पढ़ें- आ रही है इंडिया की सबसे ज्यादा रेंज वाली पहली इलेक्ट्रिक कार, 3.9 सेकंड में पकड़ेगी 100kmph की स्पीड

इसके अलावा एक दूसरे सूत्र ने कहा कि जीआर अरुण कुमार के ग्रुप सीएफओ के रूप में कार्यभार संभालने के बाद अमित आंचल की कम जिम्मेदारियां थीं. आंचल को आईपीओ आने तक बने रहने के लिए राजी किया गया था, लेकिन अब इसमें देरी हो रही है.” अरुण सिरदेशमुख पहले अमेज़ॅन फैशन इंडिया के प्रमुख थे. वे पिछले साल अप्रैल में ओला में शामिल हुए और अक्टूबर में अपने वाहन वाणिज्य मंच ओला कार्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में नियुक्त हुए.

ओला के स्पोक्सपर्सन ने मनीकंट्रोल से सिरदेशमुख के कंपनी छोड़ने की पुष्टि की है, लेकिन आंचल के कंपनी छोड़ने की खबर से इनकार किया है. उन्होंने कहा कि वह अभी भी कंपनी का हिस्सा हैं. प्रवक्ता ने बताया कि ग्रुप स्ट्रैटजी और कॉर्पोरेट फाइनेंस के प्रमुख के रूप में अमित एक प्रमुख नेतृत्व टीम के सदस्य बने हुए हैं. वह पूरे समूह में सभी फंड राइजिंग और इन्वेस्टमेंट की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं.

ये भी पढ़ें-  आखिर क्यों लग रही इलेक्ट्रिक स्कूटरों में आग? क्या आपके लिए सेफ हैं बैटरी वाली गाड़ियां?

अरुण सिरदेशमुख के बारे में उन्होंने कहा, “जैसा कि आप पहले से ही जानते हैं, हमारे समूह के सीएफओ अरुण कुमार जीआर की अब दिन-प्रतिदिन के कार्यों के प्रबंधन में एक विस्तारित भूमिका है। इसमें जीटीएम (गो टू मार्केट) समारोह की देखरेख शामिल है और इसलिए अरुण सिरदेशमुख जो जीटीएम का नेतृत्व कर रहे थे, को अब छोड़ना पड़ा है.”

Tags: Auto News, Autofocus, Car Bike News, Ola Cab



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular