Saturday, December 4, 2021
HomeराजनीतिPM मोदी का दीवाली गिफ्ट होगा कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट: नवंबर से शुरू...

PM मोदी का दीवाली गिफ्ट होगा कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट: नवंबर से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, इंटरनेशनल उड़ानों पर अभी जारी रहेगा कोविड का असर


कुशीनगर33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
फिलहाल इंटरनेशनल उड़ानों में अभी कुछ देरी हो सकती है। क्योंकि इंटरनेशनल उड़ानों पर अभी कोविड का पहरा जारी रहेगा। - Dainik Bhaskar

फिलहाल इंटरनेशनल उड़ानों में अभी कुछ देरी हो सकती है। क्योंकि इंटरनेशनल उड़ानों पर अभी कोविड का पहरा जारी रहेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों आज मिलने जा रहे कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की सौगात यहां के लोगों के लिए पीएम मोदी का दीवाली गिफ्ट होगा। क्योंकि आज बुधवार को इस एयरपोर्ट के उद्घाटन के बाद यहां से नियमित उड़ान बहुत जल्द यानी कि नवंबर महीने से शुरू हो जाएंगी। हालांकि फिलहाल इंटरनेशनल उड़ानों में अभी कुछ देरी हो सकती है। क्योंकि इंटरनेशनल उड़ानों पर अभी कोविड का पहरा जारी रहेगा। हालांकि इसके लिए कई इंटरनेशनल एयरलाइंस कंपनियों ने यहां एयरपोर्ट अथारिटी से संपर्क करना भी शुरू कर दिया है। हरी झंडी मिलते ही अब कुशीनगर या गोरखपुर से सात समंदर पार दूर नहीं होगा।

एयरपोर्ट डायरेक्टर एके द्विवेदी के मुताबिक उड़ानों को लेकर एयरलाइंस कंपनियों से बातचीत अंतिम दौर चल रही है।

एयरपोर्ट डायरेक्टर एके द्विवेदी के मुताबिक उड़ानों को लेकर एयरलाइंस कंपनियों से बातचीत अंतिम दौर चल रही है।

उड़ानों के लिए सिर्फ औपचारिकता बाकी
एयरपोर्ट डायरेक्टर एके द्विवेदी के मुताबिक उड़ानों को लेकर एयरलाइंस कंपनियों से बातचीत अंतिम दौर चल रही है। औपचारिकता पूरी होते ही उन्हें उड़ानों के लिए हरी झंडी दे दी जाएगी। हालांकि केंद्रीय नागरिक उड्डयन सचिव राजीव बंसल का कहना है कि लंबे समय से कोरोना संकट की वजह से विदेश में नागरिकों को टूरिस्ट वीजा मिलने में दिक्कत आ रही है। जिसकी वजह से फिलहाल इंटरनेशनल उड़ान नहीं हो रही हैं। वहीं, केंद्र सरकार ने भी टूरिस्ट वीजा जारी करने पर रोक लगा रखी है। सरकार की ओर से जैसे ही वीजा जारी करना शुरू किया जाएगा, वैसे ही यहां से इंटरनेशनल उड़ानें भी शुरू की जाएंगी।

पर्यटकों को कुशीनगर पहुंचने में भी काफी सहुलियत होगी।

पर्यटकों को कुशीनगर पहुंचने में भी काफी सहुलियत होगी।

एशियाई देशों से सीधे बढ़ेगी इंटरनेशनल कनेक्टिविटी
एयरपोर्ट अधिकारियों के मुताबिक कुशीनगर एयरपोर्ट से इंटरनेशनल उड़ानें शुरू होने से श्रीलंका, जापान, ताइवान, दक्षिण कोरिया, चीन, थाईलैंड, वियतनाम, सिंगापुर सहित दक्षिण पूर्व एशियाई देशों से सीधे इंटरनेशनल कनेक्टिविटी बढ़ेगी। पर्यटकों को कुशीनगर पहुंचने में भी काफी सहुलियत होगी। इसके अलावा घरेलू उड़ान शुरू होने से बौद्ध सर्किट के लुंबिनी, बोधगया, सारनाथ, कुशीनगर श्रावस्ती, राजगीर, संकिसा एवं वैशाली की यात्रा पर्यटक पहले से कम समय में पूरी कर सकेंगे।

589 एकड़ में 260 करोड़ रुपये की लागत से बनकर तैयार हुआ है एयरपोर्ट।

589 एकड़ में 260 करोड़ रुपये की लागत से बनकर तैयार हुआ है एयरपोर्ट।

एक नजर में कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट

  • कुशीनगर एयरपोर्ट पर बने रनवे की क्षमता 8 फ्लाइट प्रतिघंटा।
  • एक साथ चार फ्लाइट लैंड कर सकती हैं और चार फ्लाइट टेक-ऑफ कर सकती हैं।
  • एयरपोर्ट पर 3.2 किमी लंबा और 45 मीटर चौड़ा रनवे है बनकर तैयार, जो UP का सबसे लंबा रनवे है।
  • योगी सरकार ने 24 जून 2020 को इसे इंटरनेशनल एयरपोर्ट घोषित किया था।
  • कुशीनगर विश्व प्रसिद्ध बौद्ध तीर्थ स्थल है। यहां भगवान गौतम बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ था।
  • गोरखपुर से कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की दूरी सिर्फ 55 किलोमीटर।
  • 589 एकड़ में 260 करोड़ रुपये की लागत से बनकर तैयार हुआ है एयरपोर्ट।
  • एयरपोर्ट के एप्रन पर चार बड़े हवाई जहाज एकसाथ खड़े हो सकते हैं।
  • प्रदेश के सबसे बड़े रनवे (3200 मीटर) वाले इस एयरपोर्ट के क्रियाशील होने के साथ ही पर्यटन विकास, निवेश, रोजगार का बड़ा प्लेटफॉर्म तैयार हो रहा है।
फिलहाल गोरखपुर से विभिन्न शहरों के लिए कुल 13 उड़ानें रोजाना हो रही हैं।

फिलहाल गोरखपुर से विभिन्न शहरों के लिए कुल 13 उड़ानें रोजाना हो रही हैं।

अभी सिर्फ गोरखपुर से रोजना होती हैं 13 उड़ानें
फिलहाल गोरखपुर से विभिन्न शहरों के लिए कुल 13 उड़ानें रोजाना हो रही हैं। इनमें दिल्ली के लिए सर्वाधिक 5, मुंबई के‌ लिए 3, कोलकाता, लखनऊ, प्रयागराज, हैदराबाद और बंगलूरू के लिए एक-एक उड़ान शामिल है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular