Monday, April 12, 2021
Home विश्व Singapore ने नाकाम की हिंदुओं पर हमले की साजिश, बांग्लादेशी गिरफ्तार

Singapore ने नाकाम की हिंदुओं पर हमले की साजिश, बांग्लादेशी गिरफ्तार


सिंगापुर: सिंगापुर ने हिंदुओं की हत्या की साजिश रचने वाले एक बांग्लादेशी नागरिक को गिरफ्तार किया है. गृहमंत्रालय की तरफ से जारी एक बयान में बताया गया है कि आरोपी अहमद फैजल देश में हिंदुओं पर हमले की साजिश रच रहा था. इसके अलावा, वह कश्मीर में आतंकी गतिविधियों में भी शामिल होना चाहता था.

37 लोगों की हुई जांच
सिंगापुर (Singapore) के गृह मंत्रालय के मुताबिक, फ्रांस (France) हमले के बाद सुरक्षा उपायों के तहत 37 संदिग्ध लोगों की जांच की गई थी, जिसके बाद एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. बांग्लादेशी नागरिक की पहचान 26 वर्षीय अहमद फैजल के तौर पर हुई है और उसे आंतरिक सुरक्षा अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया है. 

VIDEO

Kanpur: ‘Love Jihad’ के लिए बांधा कलावा, इन 11 लड़कियों की जिंदगी ऐसे बना दी नरक

खरीदा था चाकू
सिंगापुर की तरफ से कहा गया है कि जिन संदिग्ध 37 लोगों की जांच की गई उनमें से 14 सिंगापुर के नागरिक और 23 विदेशी हैं. जिनमें से सात को अभी तक क्लीन चिट नहीं दी गई है. विदेशियों में ज्यादातर बांग्लादेशी बताये जा रहे हैं. गृह मंत्रालय के अनुसार, फैजल ने पूछताछ में बताया है कि उसने एक चाकू खरीदा था, जिससे वह बांग्लादेश में रहने वाले हिंदुओं को निशाना बनाना चाहता था. उसने यह भी कहा कि वो कश्मीर में इस्लाम के कथित दुश्मनों के खिलाफ लड़ना चाहता है.

2017 से सिंगापुर में रह रहा
मंत्रालय ने बताया कि शुरुआती जांच में यह पता चला है कि फैजल कट्टरपंथी है और धर्म के नाम पर हिंसा फैलाने की मंशा रखता है. फैजल 2017 से सिंगापुर में निर्माण मजदूर के तौर पर काम कर रहा है. वह 2018 में आतंकी संगठन आईएसआईएस के संपर्क में आया और सीरिया में इस्लामी खलीफा शासन स्थापित करने के आईएसआईएस के लक्ष्य के प्रति आकर्षित हुआ. आरोपी आईएसआईएस के साथ सीरिया सरकार के खिलाफ लड़ने के लिए वहां जाना चाहता है. उसका कहना है कि यदि वो लड़ते हुए मर गया तो शहीद होगा.

बयान में कहा गया है कि फैजल ने फर्जी नामों से कई सोशल मीडिया अकाउंट बनाये हैं और उन्हें हिंसा को बढ़ावा देने के लिए इस्तेमाल करता है.  

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular