Tuesday, April 13, 2021
Home खेल Team India के गेंदबाजों को कमतर आंक रहे हैं Steve Smith, काबिलियत...

Team India के गेंदबाजों को कमतर आंक रहे हैं Steve Smith, काबिलियत पर उठाए सवाल


नई दिल्ली: जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की अगुवाई वाली भारतीय बॉलिंग अटैक आगामी सीरीज में अगर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को शॉर्ट बॉल डालने की योजना बना रहे हैं तो उन्हें लंबे समय तक स्मिथ के कंधे और पसलियों तक टारगेट करना पड़ेगा. साथ ही उन्हें तेज गेंदें भी डालनी होगी, जैसा कि न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज नील वैगनर ने पिछले साल स्मिथ को डाला था.

यह भी पढ़ें- Rohit Sharma ने इंस्टाग्राम पर शेयर की तस्वीर, बुरी तरह हो गए ट्रोल

कीवी गेंदबाज नील वैगनर (Neil Wagner) ने अपनी इस शॉर्ट गेंदों से 3 मैचों की टेस्ट सीरीज में 5 में से 4 बार स्मिथ को आउट किया था. स्टीव स्मिथ (Steve Smith) का मानना है कि वैगनर ने जिस क्षेत्र को टारगेट किया था, भारतीय गेंदबाजों के लिए उस एरिया को टारगेट करना संभव नहीं हो सकता क्योंकि भारतीय गेंदबाज लंबे समय से अपनी गति में विविधता लाते हैं और उनके पास एक अलग तरह की हुनर है.

स्मिथ ने कहा, ‘वो (वैगनर) वास्तव में टीम के साथ धैर्यवान हैं. वो पूरे दिन ऐसा करने में सक्षम हैं. ऐसे तेज गेंदबाज ज्यादा नहीं हैं, जो पूरे दिन बाउंसर्स के साथ गेंदबाजी कर सकें. मुझे लगता है कि जिस तरह से नील करते हैं, वो वास्तव में खास है. वह कंधे और रिब के बीच तक गेंदें करते हैं. वह अविश्वसनीय रूप से सटीक हैं और वह अपनी गति में बदलाव लाने की क्षमता रखते हैं.’

स्मिथ को पिछले साल वैगनर के खिलाफ काफी संघर्ष करना पड़ा था. उन्होंने 42.8 की औतस से 2 अर्धशतकों की मदद से महज 214 रन बनाए थे. उनका मानना है कि वैगनर जिस तरह से शॉट गेंदों का इस्तेमाल करते हैं, उस तरह से कोई और नहीं कर सकता.

उन्होंने कहा, ‘वैगनर इस वक्त टेस्ट में नंबर 2 गेंदबाज हैं. अगर आप वैगनर को देखें तो पाएंगे कि उन्होंने शॉर्ट पिच गेंदों पर ज्यादा विकेट लिए हैं. जिस तरह से वो फील्ड लगाते हैं, शायद इसलिए वो नंबर 2 टेस्ट गेंदबाज हैं. अन्य गेंदबाज वैसे नहीं है, जैसे कि वैगनर है.’

स्मिथ का कहना है कि टेस्ट क्रिकेट आपको साझेदारी करने का मौका देती है और इसका मतलब है कि अगर आप शॉर्ट बॉल फेंकते हैं तो आपको इंतजार करना होगा. उन्होंने कहा, ‘ये टेस्ट क्रिकेट है, और यही इसकी सुंदरता है. आप जितनी लंबी साझेदारी करना चाहें, कर सकते हैं. अगर मैं इस तरह की सोच रखता हूं तो मेरे लिए ये अच्छा होगा.’
(इनपुट-आईएएनएस)





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular