Upcoming Bollywood Film: हम दो हमारे बारह, अन्नू कपूर की फिल्म का मैसेज है साफ, जानें कब होगी रिलीज

0
7
Share


Annu Kapoor Film: दो नेशनल और एक फिल्म फेयर अवार्ड जीत चुके एक्टर अन्नू कपूर जल्द ही ऐसे मुद्दे वाली फिल्म में आ रहे हैं, जिस पर मीडिया और समाज में बात तो होती है, लेकिन सिनेमा में नहीं. फिल्म हम दो हमारे बारह में अन्नू कपूर ऐसे परिवार के मुखिया के रूप में नजर आएंगे, जहां पति-पत्नी के दर्जन भर बच्चे हैं. अन्नू कपूर कहते हैं कि फिल्म के टाइटल से साफ है कि यह किस मुद्दे पर बात कर रही है. मामला है देश में बढ़ती जनसंख्या का. आज भारत दुनिया में दूसरा सबसे ज्यादा आबादी वाला देश है और आने वाले एक-दो वर्षों में हम दुनिया में सबसे ज्यादा आबादी वाले देश होंगे.

अगर हम होते बिंदास
फिल्म के पोस्टर लॉन्चिंग के मौके पर अन्नू कपूर ने कहा कि यह गंभीर विषय है, लेकिन फिल्म की टीम ने इस कॉमिक अंदाज में बनाया है. उन्होंने कहा कि मेरे पास कई मैसेज आते हैं, जिनमें एक बार यह आया कि भारतीय बड़े शर्मीले होते हैं. अब शर्मा-शर्मी में हमारी आबादी इतनी हो गई. सोचिए कि हम अगर ऐसे नहीं होते और बिंदास रहते तो आबादी का क्या हाल होता. उन्होंने कहा कि हमारी फिल्म तमाम विशेषज्ञ हमारे देश में जनसंख्या विस्फोट पर अपनी राय जाहिर करते हुए इसके दुष्परिणामों की ओर इशारा करते रहे हैं. बेलगाम होकर बढ़ती जनसंख्या देश में गरीबी और बेरोजगारी की मुख्य वजहें है.

पोस्टर में ‘भीड़’
उल्लेखनीय है जनसंख्या पर तमाम बहस के बावजूद सिनेमा के पर्दे से यह विषय हमेशा नदारद रहा है. अन्नू कपूर को उम्मीद है कि हम दो हमारे बारह से यह चुप्पी टूटेगी. पोस्टर की ‘भीड़’ और फिल्म के टाइटल से इसकी कहानी का आसानी से अनुमान लगाया जा सकता है. पोस्टर पर लिखा गया हैः जल्द ही चीन को भी पीछे छोड़ देंगे. मैसेज साफ है कि इतनी आबादी को उपलब्धि के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए.

यह फिल्म क्यों बना रहे
पोस्टर लॉन्च के मौके पर अन्नू कपूर समेत फिल्म के बाकी कलाकार मौजूद थे. फिल्म के निर्माता रवि गुप्ता हैं. जबकि कमल चंद्रा ने फिल्म का निर्देशन किया है. कहानी राजन अग्रवाल ने लिखी है. अन्नू कपूर ने कहा कि फिल्मों के जरिए जनसंख्या विस्फोट की बात की जानी चाहिए और यही वजह है कि हमने इतने अहम विषय पर बनी फिल्म में काम करने का फैसला किया. उन्होंने आगे कहा कि बेहिसाब ढंग से बढ़ती आबादी से कई समस्याएं जुड़ी हैं. आबादी नियंत्रण के लिए कानून से ज्यादा लोगों में जागरुकता जरूरी है. लोगों को भी इस मुद्दे पर अपनी भूमिका निभानी होगी. निर्देशक कमल चंद्रा ने कहा कि फिल्म में न सिर्फ जनसंख्या विस्फोट के साइड इफेक्ट्स के बारे में विस्तार से बताया गया है, बल्कि इसमें भविष्य की चिंताओं से भी रू-ब-रू कराने की कोशिश की गई है. फिल्म की रिलीज डेट का फिलहाल ऐलान फिलहाल नहीं किया गया है. लेकिन अनुमान है कि फिल्म अगले साल रिलीज होगी.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर 

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here