Home खेल Vijay Hazare Trophy: हिमाचल ने रचा इतिहास, तमिलनाडु को मात देकर जीता...

Vijay Hazare Trophy: हिमाचल ने रचा इतिहास, तमिलनाडु को मात देकर जीता पहला खिताब

0
43
Share


नई दिल्ली: कप्तान ऋषि धवन के ऑलराउंड खेल और मैन ऑफ द मैच ओपनिंग बल्लेबाज शुभम अरोड़ा (136) की नाबाद शतकीय पारी से हिमाचल प्रदेश ने विजय हजारे ट्रॉफी राष्ट्रीय वनडे टूर्नामेंट के खराब रोशनी से प्रभावित फाइनल में रविवार को यहां तमिलनाडु को वीजेडी प्रणाली से 11 रन से हराकर पहली बार इस खिताब को अपने नाम किया.

हिमाचल ने रचा इतिहास 

तमिलनाडु ने अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक की 116 रन की पारी के दम पर 314 रन (49.4 ओवर में ऑल आउट) बनाए. खराब रोशनी के कारण मैच को रोके जाते समय हिमाचल ने 47.3 ओवर में चार विकेट के 299 रन बना लिए थे. वीजेडी प्रणाली से इस समय पांच बार के चैम्पियन तमिलनाडु का स्कोर 289 रन था. विकेटकीपर बल्लेबाज अरोड़ा ने 131 गेंद की नाबाद पारी के दौरान 13 चौके और एक छक्का जड़ा. जबकि शानदार लय में चल रहे धवन ने 23 गेंद की नाबाद पारी में 42 रन बनाए उन्होंने इस दौरान पांच चौके और एक छक्का लगाया. धवन ने गेंद से भी कमाल दिखाते हुए 10 ओवर में 62 रन देकर तीन विकेट लिए. हिमाचल प्रदेश ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया जिसे उसके गेंदबाजों ने शुरुआती 14.3 ओवर में 40 रन पर चार विकेट लेकर सही साबित किया.

खिताब से चूकी तामिलनाडु की टीम

इसके बाद कार्तिक और बाबा इंद्रजीत ने 202 रन की शानदार साझेदारी कर तमिलनाडु की मैच में शानदार वापसी कराई. कार्तिक ने 103 गेंद की पारी में आठ चौके और सात छक्के जड़े तो वही इंद्रजीत ने 71 गेंद की पारी में आठ चौके और एक छक्का की मदद से 80 रन बनाए. आखिरी ओवरों में शाहरुख खान ने एक बार फिर विस्फोटक पारी खेली. उन्होंने 21 गेंद में तीन छक्के और इतने ही चौको की मदद से 42 रन बनाये तो वही कप्तान विजय शंकर ने 16 गेंद में 22 रन बनाए. हिमाचल प्रदेश के लिए पंकज जायसवाल ने 9.4 ओवर में 59 रन देकर चार विकेट लिए.

लक्ष्य का पीछा करते हुए अरोड़ा और प्रशांत चोपड़ा (21) ने पहले विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी कर हिमाचल प्रदेश को अच्छी शुरुआत दिलाई. टीम ने हालांकि इसके बाद दिग्विजय रांगी (शून्य) और निखिल गंगटा (18) के विकेट जल्दी-जल्दी गवां दिए.

लिस्ट ए क्रिकेट में पहला शतक जड़ने वाले अरोड़ा का साथ इसके बाद अमित कुमार ने शानदार तरीके से निभाया. दोनों की चौथे विकेट के लिए 148 रन की साझेदारी में अमित ने 74 रन का योगदान दिया. उन्होंने 79 गेंद की पारी में छह चौके लगाए. इस साझेदारी को बाबा अपराजित (45 रन पर एक विकेट) ने तोड़कर तमिलनाडु की उम्मीदे जगा दी लेकिन धवन ने एक बार फिर ताबड़तोड़ पारी खेल टीम को जीत सुनिश्चित की.





Source link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here