Sunday, January 23, 2022
Homeलेटेस्ट मोबाइल फोन्सWhatsApp ने देश के 500 गांवों को लिया गोद, जानें क्‍या है...

WhatsApp ने देश के 500 गांवों को लिया गोद, जानें क्‍या है इसकी वजह?


नई दिल्‍ली. वॉट्सऐप ने अपने पायलट प्रोग्राम के तहत महाराष्ट्र और कर्नाटक के 500 गांवों को गोद लेने का ऐलान किया है. मेटा (फेसबुक) के स्वामित्व वाले मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वॉट्सऐप (WhatsApp) ने बुधवार को ऐलान किया कि वह ग्रामीण स्मार्टफोन यूजर्स को डिजिटल भुगतान प्रणाली (Digital Payment) से परिचित कराने की पहल करेगा. कंपनी ने कहा कि उसका पायलट प्रोग्राम डिजिटल पेमेंट्स उत्सव (Digital Payment Utsav) कर्नाटक और महाराष्ट्र के 500 गांवों को कवर करेगा.

मैसेजिंग ऐप का लक्ष्य है कि इन गांवों के यूजर्स को वॉट्सऐप-पे (WhatsApp Pay) के जरिये डिजिटल भुगतान तक पहुंच उपलब्‍ध कराई जाए. बता दें कि भारत में मेटा (Meta) का वार्षिक कार्यक्रम उसके ऐप्स के जरिये सामाजिक-आर्थिक परिवर्तन और समाज पर पड़ रहे सकारात्मक असर को दिखाता है.

ये भी पढ़ें – Jio ने 1 रुपये वाला प्रीपेड प्लान लाकर किया धमाका, 30 दिन की वैलिडिटी और डेटा भी

क्या है इस प्रोग्राम का मकसद?
वॉट्सऐप कंपनी का कहना है कि इस प्रोग्राम का मकसद जमीनी स्तर पर डिजिटल रूप से किए गए पेमेंट सिस्टम में व्यवहारिक बदलाव लाना है. भारत के वॉट्सऐप प्रमुख अभिजीत बोस ने कहा, ‘हम प्रतिबद्ध हैं कि वॉट्सऐप के जरिये वित्तीय समावेशन में तेजी लाने में मदद कर सकें. हमने महाराष्ट्र और कर्नाटक के 500 गांवों को पायलट प्रोग्राम में शामिल किया है. हमारा लक्ष्य अगले 50 करोड़ डिजिटल भुगतान पारिस्थितिकी तंत्र को जोड़ने का है.’

ये भी पढ़ें – अभी के अभी अपडेट करें Apple के अपने सभी डिवाइस, नहीं किए तो पछताएंगे!

ग्रामीणों को अब तक क्‍या-क्‍या सिखाया?
मेटा की मैसेजिंग कंपनी ने कहा है कि गांव में किराने की दुकान से लेकर ब्यूटी-पार्लर तक सभी छोटे व मध्यम व्यवसाय अब ‘व्हाट्सएप पे’ का इस्तेमाल करके डिजिटल पेमेंट कर सकते हैं. डिजिटल पेमेंट्स उत्सव पायलट कार्यक्रम की शुरुआत 15 अक्टूबर को कर्नाटक के मांड्या जिले में क्याथनाहल्ली गांव से हुई. बता दें कि इस गांव के लोगों को डिजिटल पेमेंट के बारे में विस्‍तार से बताया गया. उन्‍हें सिखाया गया कि यूपीआई के लिए साइन-अप कैसे करें, यूपीआई अकाउंट कैसे बनाएं और डिजिटल भुगतान के दौरान कैसी सावधानियां बरतें.

Tags: Digital payment, Facebook, Tech News in hindi, Whatsapp, WhatsApp Help





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular