Sunday, May 9, 2021
Home विश्व WHO की फटकार से चीन हुआ शर्मिंदा, बोला- 'कुछ गलतफहमी हुई है'

WHO की फटकार से चीन हुआ शर्मिंदा, बोला- ‘कुछ गलतफहमी हुई है’


बीजिंग: कोरोना वायरस (Coronavirus) के उत्पत्ति स्थल की जांच के लिए दौरे की अनुमति देने में टाल-मटोल पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चीन को जमकर फटकार लगाई है. WHO की झिड़की के बाद शर्मिंदगी का सामना कर रहे चीन ने बुधवार को कहा कि विशेषज्ञों को देश की यात्रा की समय पर मंजूरी देने को लेकर बीजिंग और संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी के बीच कुछ ‘गलतफहमी’ हो सकती है.

चीन ने हालांकि इसके बावजूद इस बारे में कोई संकेत नहीं दिया कि वह डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों की टीम को बीजिंग आने की अनुमति कब देगा.

वुहान दौरा करना चाहती थी WHO की टीम

डब्ल्यूएचओ की टीम दुनियाभर को महामारी का दंश देने वाले घातक कोरोना वायरस (Coronavirus) के उत्पत्ति स्थल का पता लगाने के लिए चीन का दौरा करना चाहती है क्योंकि कोविड-19 (Covid-19) की शुरुआत चीन के वुहान (Wuhan) शहर से ही हुई थी.

ये भी पढ़ें- 81 की लेडी ने 35 साल के युवक से रचाई शादी, अब इस वजह से हैं परेशान

WHO प्रमुख ने चीन को लगाई लताड़

इस बीच चीन समर्थक माने जाने वाले डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस अधानोम गेब्रेयेसस मंगलवार को जिनेवा में संवाददाता सम्मेलन में बीजिंग की निन्दा करते नजर आए. उन्होंने कहा, ‘आज, हमें पता चला कि चीनी अधिकारियों ने टीम के चीन पहुंचने के लिए अभी तक आवश्यक मंजूरी को अंतिम रूप नहीं दिया है.’ डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कहा, ‘मैं इस खबर से अत्यंत निराश हूं, दो सदस्य पहले ही अपनी यात्रा शुरू कर चुके थे और अन्य को अंतिम समय में यात्रा रोकनी पड़ी.’

ये भी पढ़ें- अपने कमजोर सैनिकों को सुपर सोल्जर बनाना चाहता है China…

टेड्रोस ने कहा कि उन्होंने ‘स्पष्ट’ कर दिया है कि मिशन संयुक्त राष्ट्र स्वास्थ्य एजेंसी के लिए प्राथमिकता है. उन्होंने कहा, ‘हम मिशन को जल्द से जल्द अंजाम देने को उत्सुक हैं.’

LIVE TV

चीन बोला- गलतफहमी हो सकती है

वहीं, संबंधित घटनाक्रम को अधिक तवज्जो ने देते हुए चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने टेड्रोस के बयान पर कहा, ‘इसपर कुछ गलतफहमी हो सकती है.’

चुनयिंग ने कहा, ‘हम डॉ. टेड्रोस और डब्ल्यूएचओ की बात को समझ सकते हैं. दोनों पक्ष तारीखों को अंतिम रूप देने के लिए चर्चा कर रहे हैं… इसपर कुछ गलतफहमियां हो सकती हैं. हम संपर्क में हैं और एक-दूसरे का सहयोग कर रहे हैं तथा मेरा मानना है कि यह जारी रहेगा.’

उन्होंने हालांकि इस बारे में कोई संकेत नहीं दिया कि चीन डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों की टीम को बीजिंग आने की अनुमति कब देगा.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular